Vachan badlo ( वचन बदलो ) 300+ vachan badlo in hindi

Vachan badlo ( वचन बदलो ) | 300+ vachan badlo in hindi

Vachan badlo ( वचन बदलो ) :-  संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण और क्रिया के जिस रूप से संख्या का बोध हो, उसे ‘वचन’ कहते हैं। दूसरे शब्दों में, शब्दों के संख्याबोधक विकारी रूप का नाम ‘वचन’ है। ‘वचन‘ का शाब्दिक अर्थ है-‘संख्यावचन’। ‘संख्यावचन’ को ही संक्षेप में ‘वचन’ कहते है।

दूसरे शब्दो में- ‘वचन’ का अर्थ ‘कहना’ भी है।

Vachan badlo ( वचन बदलो ) क्या हैं :- वचन बदलो क्या हैं ये जानने से पहले हमने आपको बता दिया कि वचन क्या क्या हैं जिससे कि आपको अच्छे से समझ में आ जाये। कि Vachan badlo ( वचन बदलो ) क्या हैं।

Vachan badlo ( वचन बदलो ) परिभाषा:- वचन बदलो वह हैं जिसका हम एकवचन से बहुवचन में बदल दे  या बहुवचन को एकवचन में बदल दे वचन बदलो कहलाते हैं।। जैसे- नदि की नदियाँ । लड़का का लड़के इत्यादि।

वचन के प्रकार

अँगरेजी की तरह हिंदी में भी वचन के दो प्रकार हैं-

1. एकवचन

2. बहुवचन

1. एकवचन- विकारी शब्द में जिस रूप से एक पदार्थ या व्यक्ति का वोध होता है, उसे एकवचन कहते हैं, जैसे-नदी, लड़का, घोड़ा, बच्चा इत्यादि।
2. बहुवचन-विकारी शब्द के जिस रूप से अधिक पदार्थों अथवा व्यक्तियों का बोध होता है, उसे बहुवचन कहते हैं, जैसे- नदियाँ, लड़के, घोड़े, बच्चे इत्यादि।

वचन के रूपांतर

वचन के कारण सभी शब्दों-संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण और क्रिया के रूप विकृत होते है। किंतु, यहाँ ध्यान देने की बात यह है कि सर्वनाम, विशेषण और क्रिया के रूप मूलतः संज्ञाओं पर ही आश्रित हैं। इसलिए, ‘वचन’ में संज्ञा-शब्दों का रूपांतर होता है। वचन के अधीन संज्ञा के रूप दो तरह से परिवर्तित होते हैं-(क) विभक्तिरहित और (ख) विभक्तिसहित।

Vachan badlo ( वचन बदलो ) | 300+ vachan badlo in hindi

एकवचन बहुवचन
पुस्तक पुस्तकें
लाठी लाठिया
नदी नदिया
पत्ता पत्ते
पोधा पोधे
थेला थेले
औरत औरते
किताब किताबे
कार कारे
पंखा पंखे
कमरा कमरे
घोडा घोड़े
चूहा चूहे
गाय गाये
बहिन बहने
निति नीतियां
चिड़िया चिड़ियाँ
सिद्धि सिद्धियाँ
परी परियाँ
रानी रानियाँ
सखी सखियाँ
बहु बहुए
केला केले
चिता चीते
विधि विधियाँ
पुस्तक पुस्तके
बात बाते
राश राशियाँ
तलवार तलवारे
माता माताएँ
बेटा बेटें
सड़क सड़के
भेड़िया भेड़िये
थाली थालिये
महिला महिलाएं
शिक्षक शिक्षिकाए
धारा धराए
कन्या कन्याये
अध्यापिका अध्यापिकाए
लता लताओं
शक्ति शक्तियां
नारी नारियां
टोपी टोपियाँ
कली कलियाँ
बिजली बिजलियाँ
धव्नि धव्नियां
गली गलियाँ
तितली तितलियाँ
माला मालाये
रीती रीतियों
नाली नालियाँ
ताली तालियाँ
गुरु गुरुजन
खिलाड़ी खिलाड़ी
बच्चा बच्चे
नदी नदियाँ
नारी नारियाँ
सब्जी सब्जियाँ
मोर मोर
रात रातें
भक्त भक्तगण
टुकड़ी टुकड़ियाँ
लड़ी लड़ियाँ
धातु धातुएँ
बर्फी बर्फियाँ
धेनु धेनुएँ
जाति जातियाँ
लेखक लेखकगण
स्त्री स्त्रियाँ
थाली थालियाँ
फसल फसलें
कन्या कन्याएँ
औज़ार औज़ार
हथियार हथियार
उँगली उँगलियाँ
तिथि तिथियाँ
माता माताएँ
अबला अबलाएँ
कुत्ता कुत्ते
गली गलियाँ
मुर्गी मुर्गियाँ
कामना कामनाए
गन्ना गन्ने
वधू वधुएँ
झाड़ी झाड़ियाँ
विधि विधियाँ
बहू बहुएं
लता लताएँ
प्याला प्याले
सखी सखियाँ
घर घर
देश देश
रिश्ता रिश्ते
कली कलियाँ
कलम कलमें
लड़की लड़कियाँ
लड़का लड़के
कहानी कहानियाँ
कथा कथाएँ
कविता कविताएँ
मैदान मैदान
गुड़िया गुड़ियाँ
गति गतियाँ
शाखा शाखाएँ
विद्या विद्याएँ
गऊ गउएँ
खिड़की खिड़कियाँ
पत्रिका पत्रिकाएँ
घोड़ा घोड़े
गधा गधे
साइकिल साइकिलें
पपीता पपीते
लठिया लुठियाँ
घड़ी घड़ियाँ
दीवार दीवारें
विद्यार्थी विद्यार्थीगण
महल महल
लुटिया लुटियाँ
नाली नालीयाँ
सपेरा सपेरे
कान कान
आँख आँखें
पैर पैर
टाँग टाँगें
भेड़ भेड़ें
बकरी बकरियाँ
सड़क सड़कें
गाड़ी गाड़ियाँ
दूरी दूरियाँ
चुहिया चुहियाँ
बिल्ली बिल्लियाँ
जु जुएँ
पेड़ पेड़
परदा परदे
बात बातें
चुटिया चुटियाँ
गौ गौएँ
दाना दानें
तोता तोते
वाद्य वाद्य
भुजा भुजाएँ
रीति रीतियाँ
प्रजा प्रजाजन
कर्मचारी कर्मचारीवर्ग
दवा दवाएँ
कवि कविगण
घोंसला घोंसले
पक्षी पक्षीवृंद
ढेला ढेले
कुर्सी कुर्सियाँ
सहेली सहेलियाँ
आप आपलोग
बस्ता बस्ते
मुद्रा मुद्राएँ
अध्यापिका अध्यापिकाएँ
पुस्तक पुस्तकें
गहना गहने
गरीब गरीब लोग
व्यापारी व्यापारीगण
मटका मटके
पौधा पौधे
डिबिया डिबियाँ
शेर शेर
बेटा बेटे
खंभा खंभे
पाती पातियाँ
तरु तरुओं
वस्तु वस्तुएँ
सेना सेनादल
आत्मा आत्माएँ
बर्तन बर्तन
मिठाई मिठाईयाँ
जानवर जानवर
समुद्र समुद्र
मछली मछलियाँ
पक्षी पक्षीवृंद
बादल बादल
चश्मा चश्मे
तारा तारे
सुधी सुधिजन
रास्ता रास्ते
रेखा रेखाएँ
गोला गोले
डाल डालें
साथी साथियों
मेला मेले
मुर्गा मुर्गे
साड़ी साड़ियाँ

Vachan badlo ( वचन बदलो ) | vachan badlo in hindi वाक्य प्रयोग-

  • तुम पुस्तको को सही से रखो।
  • जोओं अपने साथियों के साथ खोलो।
  • मेंले में चलना हैं तैयार हो जाओँ।
  • साड़ियाँ कितनी लेनी हैं।
  • मुर्गो को पकड़ो।
  • तारे चमक रहे हैं।
  • जानवरो को पकड़ो।
  • पोधो को पानी डाल दो।
  • सारी घड़ियाँ को सही से रख दो।
  • घोड़ो का चारा डाल दो।

Note- जिनको जिनको हमने गहरा कलर में  किया हैं वह सभी शब्द बहुवचन के हैं। आशा करता हूँ कि आप समझ गये होगे कि वचन बदलो क्या होता हैं । और इसे कैसे बदला जाता हैं।

इन्हे भी पढ़े:-

हिन्दी व्याकरण (Hindi Grammar ):- हिन्दी भाषा – वर्णमाला – विराम चिन्ह – कारक – अव्यय – अलंकार – सर्वनाम – संज्ञा – क्रिया – विशेषण – उपसर्ग – समास – रस – छंद – पदबंध – प्रत्यय – वचन – पर्यायवाची शब्द – विलोम शब्द – शब्द – मुहावरा – काल – अनेकार्थी शब्द – तत्सम तद्भव शब्द – क्रिया विशेषण – वाच्य – लिंग – निबन्ध लेखन – वाक्यांशों के लिए एक शब्द -संधि विच्छेद

Leave a Comment

Your email address will not be published.